Moneycontrol » समाचार » बाजार आउटलुक- टेक्निकल

After The Bell: कोरोना के साए से बाहर निकल बाजार में आई हरियाली, जानिए कल के लिए क्या हो निवेश रणनीति

निवेशकों को इस बात से राहत मिली है कि देश में बहुत बड़े पैमाने पर लॉकडाउन नहीं लागू होगा.
अपडेटेड Apr 16, 2021 पर 09:15  |  स्रोत : Moneycontrol.com

After The Bell: महाराष्ट्र और दिल्ली में कोरोना से निपटने के लिए लगाए गए प्रतिबंधों के बावजूद आज भारतीय बाजार मजबूती के साथ बंद होने में कामयाब रहे। निवेशकों को इस बात से राहत मिली है कि देश में बहुत बड़े पैमाने पर लॉकडाउन नहीं लागू होगा।


आज के कारोबार में सेंसेक्स में उठापटक दिखी, लेकिन अंत में बाजार पर बुल अपना नियंत्रण बनाए रखने में सफल रहे। सेंसेक्स आज 259 अंक चढ़कर 48,803 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं निफ्टी 77 पॉइंट चढ़कर 14,581 के स्तर पर बंद हुआ।


आज के कारोबार में मेटल बैंक, पॉवर, एनर्जी के साथ ही तेल और गैस शेयरों में बढ़ोतरी देखने को मिली। वहीं ऑटो, consumer discretionary, realty, और FMCG stocks में मुनाफा वसूली देखने को मिली।


रिलायंस सिक्योरिटीज के विनोद मोदी ने मनी कंट्रोल से बात करते हुए कहा कि महाराष्ट्र में कोरोना से निपटने के लिए पाबंदी लगने की वजह से ऑटो शेयरों पर सबसे बुरा असर पड़ा क्योंकि ऑटो मोबाइल प्रोडक्शन में पूरे देश में अकेले महाराष्ट्र का योगदान 20 फीसदी है। इसके अलावा इन्फोसिस के नतीजे बाजार को पसंद नहीं आए और इसमें भारी मुनाफा वसूली देखने को मिली।


उन्होंने आगे कहा कि देश में कोरोना के बढ़ते मामले ने निवेशकों के सेंटीमेंट को चोट पहुंचाई है। हालांकि वैक्सीनेशन प्रोग्राम को तेजी से आगे बढ़ाने के सरकार के प्रयास, घरेलू बाजार में कई मल्टी नेशनल वैक्सीन को मंजूरी देने की तैयारी और महाराष्ट्र में पूर्ण लॉकडाउन न घोषित किए जाने से इक्विटी बाजार को कुछ राहत मिली है।


कल क्या हो निवेश रणनीति


LKP Securities के रोहित सिंगरे का कहना है कि बाजार में आज एक और पॉजिटिव सेशन देखने को मिला। निफ्टी 0.5 फीसदी की बढ़त के साथ 14,581 के स्तर पर बंद हुआ और लगातार दूसरे दिन बुलिश कैंडल बनाया। निफ्टी ने 14,460-14,350 के जोन के नजदीक एक अच्छा बेस बना लिया है। अगर यह इसके ऊपर टिके रहने में कामयाब रहता है तो फिर ऊपर की तरफ इसमें 14,700-14,800 का स्तर देखने को मिल सकता है।


Motilal Oswal Financial Services Limited के चंदन तपाड़िया का कहना है कि निफ्टी ने एक लॉन्ग लोअर सैडो (long lower shadow) के साथ एक बुलिश कैंडल बना लिया है। जो इस बात का संकेत है कि खरीदारी हो रही है। निफ्टी को 14,700 और 14,850 की तरफ जाने के लिए 14,500 के ऊपर टिके रहना होगा। नीचे की तरफ निफ्टी के लिए 14,350 और 14,250 पर सपोर्ट है।


Geojit Financial Services के विनोद नायर का कहना है कि  कोरोना के बढ़ते कोहराम के चलते बाजार कुछ ज्यादा ही सतर्क नजरिया अपना रहा है। ग्रोथ आधारित सेक्टर और शेयरों में कमजोरी दिख रही है वहीं फॉर्मा, FMCG और आईटी जैसे डिफेंसिव शेयर और सेक्टरों में मजबूती आ रही है। हालांकि राज्य सरकारें पिछले साल की तरह संपूर्ण लॉकडाउन लगाने की स्थिति में नहीं हैं। लेकिन मौजूदा स्तरों पर शेयरों के काफी महंगे हो जाने के चलते शॉर्ट टर्म में हमें करेक्शन  देखने को मिल सकता है। 


Hem Securities के मोहित निगम का कहना है कि कोरोना के चलते देश के अलग-अलग राज्यों में लागू हो रहे प्रतिबंधों के कारण बाजार में तात्कालिक प्रतिक्रिया आ रही है। फंडामेंटल मजबूत होने के चलते बाजार में उम्मीद से पहले सुधार आता दिखेगा। निवेशकों को इस गिरावट में बैंकिंग और आईटी सेक्टर के लॉर्ज कैप शेयरों में खरीदारी करनी चाहिए। इसके अलावा आगे capital goods, technology और digital space से जुड़े शेयरों तेजी देखने को मिलेगी। कल के कारोबार में निफ्टी 14,200-14,900 के दायरे में नजर आ सकता है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें.