Moneycontrol » समाचार » अमेरिकी बाजार

Global market: US मार्केट में कल दिखी तेज गिरावट, एशिया पर भी दबाव

अमेरिका में कल तेज बिकवाली के बाद आज एशिया में KOSPI भी 1 फीसदी नीचे हैं। जापान का बाजार आज भी बंद है।
अपडेटेड Sep 22, 2020 पर 11:48  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

अमेरिका में कल तेज बिकवाली के बाद आज एशिया में KOSPI भी 1 फीसदी नीचे हैं।  जापान का बाजार आज भी बंद है। लेकिन SGX NIFTY 0.25 फीसदी ऊपर है, DOW FUTURES में हल्की रिकवरी दिख रही है। उधर कल की भारी गिरावट के बाद आज कॉमेक्स पर सोने-चांदी में रिकवरी दिख रही है। डॉलर में मजबूती के कारण कल इंट्रा डे में सोने में 3 फीसदी तो चांदी में 10 फीसदी से ज्यादा की गिरावट हुई थी। क्रूड की कीमतों में भी सुधार देखने को मिल रहा है।


ग्लोबल बाजारों में गिरावट के कारणों पर नजर डालें तो बाजार पर कोरोना की चिंता फिर से हावी हो रही है। UK में फिर से लॉकडाउन की अटकलें तेज हो गई हैं। कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते UK में लॉकडाउन मुमकिन है। लॉकडाउन के डर से ग्लोबल एयरलाइन और क्रूज शेयर पिटे हैं।


US राहत पैकेज में देरी की वजह से भी बाजार को निराशा हो रही है। US में दूसरे राहत पैकेज का रास्ता मुश्किल हो रहा है। US में SC की जज के निधन के बाद राहत पैकेज फंस गया है। 3 नवंबर से पहले अब नए राहत पैकेज का आना मुश्किल है। इस बीच टेक शेयर टूटे हैं। US में टेक्नोलॉजी शेयरों में बिकवाली अब भी जारी है। Morgan Stanley का कहना है कि Nasdaq शिखर से 20 फीसदी  टूट सकता है।


इस बीच मनी लॉन्डरिंग मामले में Stanchart और HSBC का नाम आया है। एक रिपोर्ट में कहा गया है कि दोनों बैंक 20 साल से पैसों की हेराफेरी कर रहे हैं। इस रिपोर्ट के बाद HSBC का शेयर 25 साल के निचले स्तरों पर पहुंच गया है। कमोडिटी भी टूटती नजर आ रही है। डॉलर में मजबूती का असर कमोडिटी पर भी पड़ा है। COMEX पर सोना 3 फीसदी तो चांदी 8 फीसदी टूटी है। डिमांड घटने के डर से क्रूड में 4 फीसदी की गिरावट दिखी है।


वहीं देश और दुनिया में कोरोना का कहर जारी है। देश में कोरोना के केस 55 लाख के करीब पहुंच गए हैं। लेकिन रिकवरी में भारत, अमेरिका को पीछे छोड़ टॉप पर पहुंच गया है। उधर UK में फिर से लॉकडाउन लग सकता है। उधर दुनिया भर में कोरोना मरीजों की संख्या 3.14 करोड़ के पार चली गई है। कोरोना से अब तक दुनिया भार में 9.68 लाख लोगों की मौत हो चुकी है।






सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।