पाकिस्तान के पूर्व पीएम इमरान खान ने दिया यह कैसा बयान, उनकी दिमागी स्थिति पर उठ रहे सवाल - former pakistan prime minister makes a statement that is being ridiculed world over | Moneycontrol Hindi

पाकिस्तान के पूर्व पीएम इमरान खान ने दिया यह कैसा बयान, उनकी दिमागी स्थिति पर उठ रहे सवाल

पाकिस्तान के पूर्व पीएम इमरान खान ने प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ की सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि कोई भी ताकत उन्हें 20 मई को लॉन्ग मार्च में इस्लामाबाद में प्रवेश करने से रोक नहीं सकती

अपडेटेड May 14, 2022 पर 6:17 PM | स्रोत :
पाकिस्तान के पूर्व पीएम इमरान खान ने दिया यह कैसा बयान, उनकी दिमागी स्थिति पर उठ रहे सवाल
इमरान खान ने मौजूदा सरकार को भ्रष्ट बताते हुए कहा कि उन्होंने सत्ता में आने के बाद चोरों (मौजूदा सरकार) ने हर संस्थान और न्यायिक व्यवस्था खत्म कर दी है।

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) की जब से पीएम की कुर्सी गई है, वे उलूल-जुलूल बयान दे रहे हैं। ऐसा लगता है कि कुर्सी जाने के गम की वजह से उनका दिमागी संतुलन बिगड़ गया है। शुक्रवार को उन्होंने एक ऐसा ही बयान दिया। उन्होंने कहा कि चोरों के हाथों में सत्ता देने से अच्छा होता अगर एटम बम गिरा दिया जाता।

द न्यूज इंटरनेशनल के मुताबिक, खान ने शुक्रवार को अपने बानिगला आवास पर पत्रकारों से बातचीत में यह बयान दिया। उन्होंने यह भी कहा कि देश की बागडोर चोरों के हाथों में देखकर वह स्तब्ध हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों को सत्ता सौंपने से अच्छा होता कि एटम बम गिरा दिया जाता।

उन्होंने कहा कि सत्ता में आने के बाद चोरों ने हर संस्थान और न्यायिक व्यवस्था खत्म कर दी है। उन्होंने पूछा कि सरकार के कौन से अधिकारी इन अपराधियों के मामलों की जांच करेंगे?

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने आरोप लगाया है कि इमरान खान लोगों के दिमाग में जहर भरने का काम कर रहे हैं। वह अपने भाषणों में सरकारी संस्थाओं को निशाना बना रहे हैं। उन्होंने कहा कि खान बार-बार चोर और डकैत शब्द का इस्तेमाल करते हैं। पहले वह इन शब्दों का इस्तेमाल विपक्ष के लिए करते थे। अब वह सरकार के लिए कर रहे हैं।

इमरान खान ने शहबाज शरीफ की सरकार को चेतावनी देते हुए कहा है कि कोई भी ताकत उन्हें 20 मई को लॉन्ग मार्च में इस्लामाबाद में प्रवेश करने से रोक नहीं सकती। उन्होंने मौजूदा सरकार को चुनौती देते हुए कहा है कि 20 मई को 20 लाख से ज्यादा लोग इस्लामाबाद पहुंचेंगे।

पूर्व पाक पीएम ने यह भी कहा है कि उनके मार्च के रास्ते में मौजूदा सरकार चाहे जितनी भी रुकावटे खड़ी करें, 20 लाख से ज्यादा लोगों का इस्लामाबाद पहुंचना तय है। उन्होंने कहा, "हमारे विरोधी कह रहे हैं कि अगर गर्मी ज्यादा रही तो लोग मार्च में नहीं आएगे। आप चाहे जितनी कनटेनर रास्ते में खड़ी कर दें, 20 लाख लोग इस्लामाबाद पहुंचकर रहेंगे।"

इमरान खान को पिछले महीने प्रधानमंत्री के पद से इस्तीफा देने के मजबूर होना पड़ा था।  विपक्षी दलों ने उनके खिलाफ मोर्चा खोल दिया था। खान ने अपनी कुर्सी बचाने की कोशिश आखिरी वक्त तक की। लेकिन उन्हें कामयाबी नहीं मिली। वह 2018 में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री बने थे।

 

 

 

MoneyControl News

MoneyControl News

First Published: May 14, 2022 6:14 PM

हिंदी में शेयर बाजार, Stock Tips,  न्यूजपर्सनल फाइनेंस और बिजनेस से जुड़ी खबरें सबसे पहले मनीकंट्रोल हिंदी पर पढ़ें. डेली मार्केट अपडेट के लिए Moneycontrol App  डाउनलोड करें।