Moneycontrol » समाचार » आपका पैसा

किसान क्रेडिट कार्ड योजना से किसानों को मिल रही मदद, सरकार दे रही ये बंपर छूट

RBI ने कहा है कि कोरोना संकट के चलते फसल लोन पर ब्याज में अब 31 अगस्त तक छूट का फैसला लिया गया है
अपडेटेड Jul 13, 2020 पर 10:01  |  स्रोत : Moneycontrol.com

आजादी के बाद पिछले 70 साल से किसान घाटे का ही सौदा कर रहे हैं। एक तरफ उसकी जोत कम हो रही है, दूसरी तरफ उत्पादन की लागत बढ़ रही है। लेकिन उन्हें उपज बेचने पर लागत भी नसीब नहीं होती है। हर सरकार किसानों की पीड़ा का जिक्र चुनाव प्रचार में तो करती है, लेकिन जीतने के बाद पांच साल के लिए किसानों को भूल जाती हैं। मगर मोदी सरकार सत्ता में आने के बाद लगातार किसानों के लिए नई-नई योजनाएं शुरू कर रही है। उन्हीं में से एक प्रमुख योजना किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) भी है।


क्या है किसान क्रेडिट कार्ड?


किसान क्रेडिट कार्ड के जरिए किसानों को सस्ती दर पर लोन मुहैया करवाया जाता है। किसानों को इसके जरिए 4 फीसदी तक की ब्याज दर पर कर्ज चुकाने का मौका मिलता है। हालांकि इसके लिए सरकार ने कुछ शर्ते रखी हैं। इस कार्ड के जरिए किसानों को सिक्योरिटी के बिना पहले 1 लाख 60 हजार रुपये का लोन मिलता है। वहीं, समय पर लोन का भुगतान करने पर, लोन की राशि को 3 से 5 लाख रुपये तक बढ़ाया जा सकता है। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत ही किसानों को ये कार्ड मुहैया करवाए जा रहे हैं। 


RBI ने किसानों को दी राहत


कोरोना संकट के चलते फसल लोन पर ब्याज में अब 31 अगस्त तक छूट का फैसला लिया गया है। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) ने इसके लिए नोटिफिकेशन भी जारी कर दिया है। आरबीआई के इस फैसले से ब्याज में दो फीसदी की छूट और तुरंत भुगतान पर तीन प्रतिशत की व्यवस्था को आगे बढ़ाने के फैसले से किसानों को राहत मिलेगी। देश के शीर्ष बैंक ने इस संबंध में बैंकों को नोटिफिकेशन में कहा है कि वे अल्पावधि के फसल कर्ज पर किसानों इन दोनों चीजों का लाभ दें।


2.5 करोड़ किसानों क्रेडिट कार्ड देने योजना


सरकार किसान क्रेडिट कार्ड (केसीसी) के माध्यम से किसानों को कर्ज सुविधाओं का विस्तार करने के लिए सभी आवश्यक समर्थन राज्यों को प्रदान कर रही है। क्रेडिट कार्ड से मिलने वाले कर्ज की ब्याज दर काफी कम होगी। मौजूदा समय में लगभग 6.67 करोड़ सक्रिय केसीसी खाते हैं। सरकार द्वारा इस वर्ष के अंत तक 2.5 करोड़ किसानों को पंजीकृत करने के लिए एक विशेष अभियान शुरू किया गया है। फरवरी में इस अभियान की शुरुआत के बाद से लगभग 95 लाख आवेदन प्राप्त हुए हैं, जिनमें से 75 लाख आवेदन स्वीकृत किए गए हैं।


किसानों को मिलती है मदद


दरअसल, किसान क्रेडिट कार्ड जरूरत के समय किसानों को जरूरी घरेलू खर्चों को पूरा करने में मदद कर सकता है। हालांकि, केसीसी योजना जो छोटे कर्जों के लिए किसानों को कर्ज  प्रदान करती है। मुख्य रूप से फसलों से संबंधित उनकी वित्तीय आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए है। लेकिन, इसका कुछ हिस्सा अब उनके द्वारा घरेलू जरूरतों को पूरा करने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।