Moneycontrol » समाचार » आपका पैसा

अमेरिका में आपकी फैमिली Google Pay पर आपको कर सकेगी मनी ट्रांसफर

गूगल पे ने इसके लिए वेस्टर्न यूनियन के साथ पार्टनरशिप की है। शुरुआत में इन ट्रांजैक्शंस पर कोई चार्ज नहीं लगेगा
अपडेटेड May 12, 2021 पर 20:06  |  स्रोत : Moneycontrol.com

US में गूगल पे (Google Pay) यूजर्स अब अपनी फैमिली और दोस्तों को भारत और सिंगापुर में मनी ट्रांसफर कर सकेंगे। US में गूगल पे ऐप पर इंटरनेशनल पेमेंट्स और मनी ट्रांसफर के लिए एक्सपैंशन का यह बड़ा कदम है। गूगल इंटरनेशनल पेमेंट्स के लिए वेस्टर्न यूनियन (Western Union) के साथ पार्टनरशिप कर रहा है।


 इससे वर्ष के अंत तक गूगल पे के यूजर्स को लगभग 200 देशों में मनी ट्रांसफर करने की सुविधा मिल सकती है। गूगल एक अन्य पेमेंट प्लेटफॉर्म Wise के साथ भी एग्रीमेंट कर रहा है। ऐसा माना जा रहा है कि भारत के लिए गूगल पे का इंटरनेशनल मनी ट्रांसफर अभी वेस्टर्न यूनियन के जरिए होगा। हालांकि, दोनों प्लेटफॉर्म की सुविधा वाले देशों में यूजर्स के पास ट्रांसफर करने के दौरान चुनने का विकल्प होगा।


गूगल पे के जरिए मनी ट्रांसफर करना आसान है। US में आपकी फैमिली और दोस्त गूगल पे पर आपका फोन नंबर सर्च कर सकते हैं। समान फोन नंबर भारत में गूगल पे ऐप पर रजिस्टर्ड और एक भारतीय बैंक में एकाउंट के साथ लिंक्ड होना चाहिए। अमेरिका में व्यक्ति के आपकी डिटेल्स को चुनने के बाद उन्हें वह राशि दर्ज करनी होगी जो वे आपको भेजना चाहते हैं। अमेरिका से केवल US डालर में राशि भेजी जा सकेगी। इसके बाद वे वेस्टर्न यूनियन और Wise में से एक विकल्प को चुनेंगे। उन्हें तब यह पता चलेगा कि मनी ट्रांसफर होने में कितना समय लगेगा और करेंसी कन्वर्जन के बाद प्राप्त करने वाले को कितनी राशि मिलेगी।


ट्रांसफर की गई राशि सीधे उस एकाउंट में आएगी जो गूगल पे के साथ लिंक्ड है। अमेरिका में यूजर अपने गूगल पे के साथ लिंक्ड डेबिट या क्रेडिट कार्ड से राशि भेज सकेंगे।


इन ट्रांजैक्शंस के लिए कोई न्यूनतम राशि तय नहीं है। हालांकि, अधिकतम राशि पेमेंट के तरीके सहित विभिन्न कारणों पर निर्भर हो सकती है। वेस्टर्न यूनियन ने कहा है कि जून के मध्य तक इन ट्रांजैक्शंस पर कोई अतिरिक्त ट्रांजैक्शन चार्ज नहीं होगा।


गूगल की ओर से किसी इंटरनेशनल ट्रांजैक्शन के लिए भेजने या प्राप्त करने वाले पर कोई चार्ज नहीं लगाया जाएगा।


हाल ही में जारी एक रिपोर्ट में बताया गया था कि पिछले वर्ष 25 करोड़ से अधिक लोगों ने 500 अरब डॉलर से अधिक की राशि ट्रांसफर की थी। रिपोर्ट में कहा गया था कि इंटरनेशनल मनी ट्रांसफर पर फीस अभी भी अधिक है और यह ट्रांसफर की गई राशि के औसत 6.5 प्रतिशत पर है।