Moneycontrol » समाचार » आपका पैसा

PM किसान मानधन योजना: किसानों को मिलती है 36 हजार रुपये सालाना पेंशन, ऐसे उठाएं फायदा

PM किसान मानधन योजना में कोई भी 18-40 साल का किसान भाग ले सकता
अपडेटेड May 13, 2020 पर 08:12  |  स्रोत : Moneycontrol.com

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने किसानों के लिए कई तरह की योजनाएं लॉन्च की है, ताकि उन्हें उन्हें भी वित्तीय रूप से मजबूत बनाया जा सके। इसके लिए पीएम मोदी ने किसान सम्मान योजना भी शुरू की है। इसके अलावा पिछले साल पीएम मोदी ने किसान मानधन योजना लॉन्च की थी। इसमें किसानों को पेंशन दिया जाता है। गर दूसरे शब्दों में कहें तो किसानों के लिए यह बुढ़ापे की लाठी है।


इस योजना का लाभ उठाने के लिए कोई किसान 18-40 साल के बीच इस योजना में भाग ले सकता है। इसमें किसानों को हर महीने 55 रुपये से लेकर 200 रुपये के बीच किस्त भरनी होगी। इस योगदान के बाद किसानों को 60 साल की उम्र के बाद योजना के तहत 3000 रुपये महीना या 36000 रुपये सालाना पेंशन मिलने लगेगी। मौजूदा समय में पूरे देश में तकरीबन 20 लाख किसान इस योजना से जुड़ चुके हैं।


अगर किसी किसान की उम्र 25 से अधिक है तो उसे कम से कम 80 रुपये मासिक किस्त भरनी होगी। इस योजना की खासियत यह है कि इसमें जितना किसान किस्त भरते हैं, उतना ही सरकार भी किस्त भरती है। यानी अगर कोई किसान 105 रुपये की किस्त भरता है तो सरकार भी 105 रुपये जमा करती है। इस तरह से किसान के खाते में 210 रुपये हो गए। इसमें किसान को 60 साल तक किस्त भरना होगा। इसके बाद पेंशन मिलनी शुरू हो जाएगी।


यह योजना निश्चित ही उन किसानों के लिए कारगर साबित हो सकती है, जो सिर्फ और सिर्फ खेती-बाड़ी के भरोसे हैं। खासतौर से गरीब किसानों को जिनके पास आजीविका का कोई और साधन नहीं है। 


कैसे कराएं रजिस्ट्रेशन –


पेंशन योजना का लाभ उठाने के लिए किसान को कॉमन सर्विस सेंटर (Common Service Centre-CSC) पर जाकर अपना रजिस्ट्रेशन करवाना होगा।
इसके लिए आपको आधार कार्ड और बैंक अकाउंट नंबर देना होगा। शुरुआती दौर में आपको कैश में अपनी किस्त भरनी होगी। इसमें आपका आधार नंबर, नाम, पत्नी का नाम आदि सभी जानकारी ऑनलाइन अपडेट की जाएंगी। जन्म तिथि के आधार पर यह तय किया जाएगा कि आपको कितने रुपये की किस्त भरनी है। इसके बाद Enrolment cum Auto Debit mandate form प्रिंट किया जाएगा, जिसपर सब्सक्राइबर को साइन करना होगा। फिर यह फॉर्म सिस्टम में अपलोड कर दिया जाएगा। फिर यूनिक किसान पेंशन अकाउंट नंबर (KPAN) जेनरेट होगा और किसान कार्ड प्रिंट हो जाएगा। इस तरह आपका रजिस्ट्रेशन पूरा हो जाएगा



सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।