Union Budget 2021: कृषि-इंफ्रा सेस के बावजूद पेट्रोल-डीजल और शराब के दाम में बदलाव नहीं, जानिए क्यों?

फाइनेंस मिनिस्टर निर्मला सीतारमण ने अपने बजट भाषण में कहा है कि कुछ वस्तुओं पर कृषि सेस लगाने के बाद कोई फर्क नहीं पड़ेगा
अपडेटेड Feb 01, 2021 पर 19:24  |  स्रोत : Moneycontrol.com

फाइनेंस मिनिस्टर निर्मला सीतारमण ने यूनियन बजट 2021 में एग्रीकल्चर इन्फ्रास्ट्रक्चर और डेवलपमेंट सेस (Agricultural Infrastructure and Development CESS) लगाने का प्रस्ताव किया है। उन्होंने यह सेस पेट्रोल में 2.5 रुपये प्रति लीटर और डीजल में 4 रुपये प्रति लीटर लगाने की घोषणा की है। हालांकि पेट्रोल और डीजल की कीमत में कोई बदलाव नहीं आएगा। इसका कारण यह है कि दूसरी ड्यूटी में कमी आई है।


उन्होंने बताया कि एग्रीकल्चर सेस जिन वस्तुओं पर लागू किया गया है, उसमें शराब (alcohol) में 100 फीसदी, गोल्ड और सिल्वर पर 2.5 फीसदी, क्रूड पाम ऑयल पर 17.5 फीसदी, क्रूड सोयाबीन पर 20 फीसदी, सनफ्लॉवर आयल, सेब पर पर 35 फीसदी और मटर पर 40 फीसदी है। यह एग्री कल्चर सेस 2 फरवरी से लागू किए जाएंगे।


सीतारमण ने कहा कि उपभोक्ताओं पर इसका कोई फर्क नहीं पड़ेगा। उन्होंने कहा कि Agriculture Infrastructure and Development Cess (AIDC) लागू करने के बाद भी Basic excise duty (BED) और स्पेशल एडिशनल एक्साइज ड्यूटी (Special Additional Excise Duty -SAED) में कमी कर दी गई है। ताकि उपभोक्ताओं पर अतिरिक्त बोझ न बढ़े।


ANI के मुताबिक, फाइनेंस मिनिस्टर ने अनब्रांडेड पेट्रोल पर 1.4 रुपये बेसिक एक्साइज ड्यूटी लागू होगी। वहीं डीजल पर यह 1.8 रुपये प्रति लीटर होगी। अन ब्रांडेड पेट्रोल पर SEAD 11 रुपये और डीजल पर 8 रुपये प्रति लीटर होगा। इसी तरह ब्रांडेड पेट्रोल-डीजल के लिए भी तैयार किया गया है।


 



सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।