Moneycontrol » समाचार » विदेश

US TikTok Ban: अमेरिका ने TikTok और WeChat पर लगाया बैन, प्रतिबंध के खिलाफ कोर्ट पहुंची टिकटॉक

टिकटॉक की पेरेंट कंपनी बाइटडांस (Byte Dance) ने शुक्रवार की रात वाशिंगटन फेडरल कोर्ट में बैन लगाने पर डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया
अपडेटेड Sep 20, 2020 पर 08:18  |  स्रोत : Moneycontrol.com

भारत के बाद अब अमेरिका ने भी वीडियो शेयरिंग ऐप टिकटॉक (TikTok) और वीचैट (WeChat) पर बैन लगा दिया है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (US President Donald Trump) के आदेश के मुताबिक, अमेरिका में रविवार से इस चीनी दोनों ऐप की डाउनलोडिंग पर प्रतिबंध लगाया गया है। ट्रंप ने इन दोनों ऐप्स को अमेरिका की संप्रभुता, अखंडता और सुरक्षा के लिए खतरा बताया। अब ट्रंप के इस फैसले के खिलाफ TikTok कोर्ट पहुंच गई है। टिकटॉक की पेरेंट कंपनी बाइटडांस (Byte Dance) ने शुक्रवार की रात वाशिंगटन फेडरल कोर्ट में बैन लगाने पर डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया और कोर्ट से गुहार लगाई कि TikTok पर लगे प्रतिबंध को हटाया जाए।

TikTok ने कोर्ट में कहा कि राष्ट्रपति ट्रंप ने किसी अमेरिकी कंपनी के साथ बिजनेस करने और वित्तीय लेनदेन पर प्रतिबंध लगा दिया है। उनका यह फैसला गैरजिम्मेदारी से भरा है और फ्री ट्रेड (free trade) ने नियमों को उल्लंघन है। अपनी याचिका में Byte Dance ने डोनाल्ड ट्रंप पर राजनीतिक फायदे के लिए TikTok पर बैन लगाने का आरोप लगाया है। यह बैन कंपनी के फ्री स्पीच अधिकारों (free speech rights) का उल्लंघन करती है। 

ऑनलाइन कम्युनिटी बर्बाद हो जाएगी

याचिका में आरोप लगाया गया है कि राष्ट्रपति ट्रंप का यह फैसला अमेरिका में ऑनलाइन कम्युनिटी को बर्बाद कर देगा, जिसमें करोडों अमेरिकी खुद को अभिव्यक्त करते हैं। टिकटॉक ने आरोप लगाया कि अमेरिकी वाणिज्य मंत्रालय ने उन सबूतों को दरकिनार कर दिया जिसमें यह स्पष्ट है कि TikTok अमेरिका में किसी यूजर की प्राइवेसी का उल्लंघन नहीं कर रहा है और यह किसी के लिए खतरा नहीं है।

अमेरिका बेवजह परेशान कर रहा: चीन

चीन (China) ने शनिवार को आरोप लगाया है कि अमेरिका (America) उसे परेशान कर रहा है। चीन ने कहा कि वह भी इसके बदले अप्रत्याशित फैसले ले सकता है। चीनी वाणिज्य मंत्रालय की ओर से जारी एक बयान में कहा गया कि चीन ने अमेरिका से डराना-धमकाना छोड़ने, गलत कार्यों को रोकने और ईमानदारी से निष्पक्ष और पारदर्शी अंतरराष्ट्रीय नियमों और व्यवस्था को बनाए रखने का अनुरोध किया है। अगर अमेरिका ऐसा नहीं करता है तो चीन भी अमेरिका के खिलाफ सख्त फैसले ले सकता है।

टिकटॉक के लिए अमेरिका बड़ा मार्केट

अमेरिका में वीडियो शेयरिंग ऐप TikTok के बंद होने से चीन की कंपनी Byte Dance को बड़ा झटका लगेगा। पहले ही भारत में टिकटॉक के बंद होने से कंपनी को काफी नुकसान हो चुका है। टिकटॉक के लिए अमेरिका एक बड़ा मार्केट है, जहां उसके 100 मिलियन से ज्यादा एक्टिव यूजर्स हैं। अमेरिका में टिकटॉक को 17.5 करोड़ से ज्यादा बार डाउनलोड किया गया है।

सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।