अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में कोरोना का कहर, 20 दिन में 16 प्रोफेसरों की मौत

मौजूदा समय में जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कॉलेज के कोविड वार्ड में फैकल्टी मेंबर्स समेत 16 लोगों का इलाज चल रहा है
अपडेटेड May 10, 2021 पर 08:20  |  स्रोत : Moneycontrol.com

कोरोना वायरस की दूसरी लहर से भारत जूझ रहा है। उत्तर प्रदेश की अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (Aligarh Muslim University) कोरोना काल बनकर आ गया है। महज 20 दिनों में 16 वर्किंग और 10 रिटायर्ड प्रोफेसरों की मौत हो गई है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कुलपति (Vice-chancellor) तारिक मंसूर (Tariq Mansoor) के बड़े भाई की भी कोरोना वायरस की चपेट में आने से मौत हो गई।


यूनिवर्सिटी के जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज (Jawaharlal Nehru Medical College -JNMC) के कोविड वार्ड में फैकल्टी मेंबर्स सहित 16 लोगों का इलाज चल रहा है। उनमें से कुछ की हालत गंभीर है। AMU के प्रवक्ता Shafai Kidwai ने बताया कि मेडिसिन विभाग के चेयरमैन प्रोफेसर शादाब अहमद खान (Prof Shadab Ahmad Khan -58) और कंप्यूटर साइंस विभाग के प्रफेसर रफीकुल जमान खान (Rafiqul Zaman Khan -55) ने कोरोना वायरस के  चलते दम तोड़ दिया है।
 
प्रवक्ता ने आगे बताया कि कुलपति मंसूर के भाई उमर फारूक (75) की भी कोरोना से मौत हो गई। वो यूनिवर्सिटी कोर्ट के पूर्व सदस्य और मोहम्मदन एजुकेशनल कॉन्फ्रेंस (Mohammedan educational conference) के सदस्य थे। मंसूर ने कहा कि वो सभी से वैक्सीनेशन और सभी कोविड -19 प्रोटोकॉल का पालन करने की अपील करते हैं।


बुधवार को प्रसिद्ध संस्कृत स्कॉलर और संस्कृत विभाग के पूर्व चेयरमैन प्रो खालिद बिन यूसुफ (Prof Khalid Bin Yusuf - 56) का निधन हो गया था। खालिद  ऋग्वेद (Rigveda) में डॉक्टरेट हासिल करने वाले पहले मुस्लिम स्कॉलर विद्वान थे।


इन प्रोफेसरों की हो चुकी मौत


- AMU के लॉ फैकल्टी के डीन प्रो. शकील समदानी


- पूर्व प्राक्टर प्रो. जमशेद, सिद्ददीकी


- सुन्नी थियोलोजी डिपार्टमेंट के प्रो. एहसानउल्लाह फहद


- उर्दू विभाग के प्रो. मौलाना बख्श अंसारी


- पोस्ट हार्वेस्टिंग इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट के प्रो. मो. अली खान


- राजनीतिक विज्ञान विभाग के प्रो. काजी,मोहम्‍मद जमशेद


- मोलीजात विभाग के चेयरमैन प्रो. मो. यूनुस सिद्ददीकी


- इलमुल अदविया विभाग के चेयरमैन गुफराम अहमद


- मनोविज्ञान विभाग के चेयरमैन प्रो. साजिद अली खान


- म्यूजियोलोजी विभाग के चेयरमैन डॉ. मोहम्मद इरफान


- सेंटर फोर वीमेंस स्टडीज के डॉ. अजीज फैसल


- यूनिवर्सिटी पॉलिटेक्निक के मोहम्मद सैयदुज्जमान


- इतिहास विभाग के असिस्टेंट प्रोफेसर जिबरैल


- संस्कृत विभाग के पूर्व चेयरमैन प्रो. खालिद बिन यूसुफ


- अंग्रेजी विभाग के डॉ. मोहम्मद यूसुफ अंसारी


कोरोना वायरस के चलते 10 रिटायर्ट फैकल्टी मेंबर्स की मौत हो गई है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।