Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

'मोदी सरकार के मिसमैनेजमेंट से बिगड़ी अर्थव्यवस्था, राजनीति छोड़ इकोनॉमी पर दें ध्यान'

सिंह ने कहा कि मोदी सरकार को बदले की राजनीति छोड़कर अर्थव्यस्था को पटरी पर लाने पर ध्यान देना चाहिए
अपडेटेड Sep 03, 2019 पर 11:04  |  स्रोत : Moneycontrol.com

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने अर्थव्यवस्था की हालत को चिंताजनक बताते हुए कहा कि मोदी सरकार के कुप्रबंधन की वजह से देश की अर्थव्यवस्था चिंताजनक स्थिति में पहुंच गई है।


उन्होंने कहा कि मोदी सरकार को बदले की राजनीति छोड़कर अर्थव्यस्था को पटरी पर लाने पर ध्यान देना चाहिए। उन्होंने कहा कि इसके लिए सरकार को सही सोच-समझ वाले लोगों से संपर्क करना चाहिए।


सिंह ने कहा कि पिछली तिमाही में जीडीपी के 5 फीसदी तक आंकड़ों तक सीमित रहना बताता है कि भारत एक लंबे इकोनॉमिक स्लोडाउन से गुजर रहा है। उन्होंने कहा कि भारत में तेजी से वृद्धि करने की संभावनाएं हैं, लेकिन मोदी सरकार के चौतरफा कुप्रबंधन के चलते अर्थव्यवस्था में यह नरमी आई है।


पूर्व प्रधानमंत्री ने मोदी सरकार के नोटबंदी और जीएसटी के फैसले में जल्दबाजी को Man-made Crisis बताया। उन्होंने कहा- भारत इस रास्ते पर और आगे नहीं बढ़ सकता है। मैं सरकार से अनुरोध करता हूं कि वह बदले की राजनीति बंद करें और अर्थव्यवस्था को इस संकट से बाहर निकालने के लिए सही सोच-समझ के लोगों से सलाह लें।


सिंह ने कहा कि देश के युवा वर्ग, किसान, खेतीहर मजदूर, उद्यमी और वंचित तबके को बेहतर सुविधाएं मिलनी चाहिए। उन्होंने कहा कि खास तौर से विनिर्माण क्षेत्र में वृद्धि दर का केवल 0.6 प्रतिशत रहना विशेष रूप से चिंताजनक है।


उन्होंने सरकार पर देश की संस्थाओं को बर्बाद करने और उनकी स्वायत्तता छीनने का आरोप लगाया।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।