Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

IRCTC के शेयर गिरे, रेल मंत्रालय ने IRCTC के सभी मोबाइल केटरिंग कॉन्ट्रैक्ट्स रद्द किए

1 मार्च की शाम को रेल मिनिस्ट्री ने IRCTC को सभी तरह के मोबाइल केटरिंग के कॉन्ट्रैक्ट्स खत्म करने को कहा है
अपडेटेड Mar 02, 2021 पर 13:55  |  स्रोत : Moneycontrol.com

IRCTC के शेयरों में मंगलवार को गिरावट देखी गई। सुबह 9.36 बजे IRCTC के शेयर 1.55 फीसदी गिरकर 1909.05 रुपए पर ट्रेड  कर रहे थे। इससे पहले सोमवार शाम रेल मिनिस्ट्री ने IRCTC को सभी तरह के मोबाइल केटरिंग के कॉन्ट्रैक्ट्स खत्म करने को कहा है।


मंत्रालय ने रेगुलेटर को दी गई जानकारी में बताया कि IRCTC को सभी मोबाइल केटरिंग कॉन्ट्रैक्ट्स रद्द करना होगा, फिर चाहे वह ट्रेन से यात्रा करने वाले पैसेंजर्स को बेस किचन में तैयार किया गया खाना ही क्यों न परोस रहे हों।  ट्रेनों में मोबाइल कैटरिंग की सुविधा 2014 में शुरू की गई थी, जिसमें यात्री अपने फेवरेट ब्रांड से ऑनलाइन फूड ऑर्डर कर सकते थे और पैसेंजर्स को उनकी ऑर्डर किया हुआ फूड उनके बर्थ पर डिलिवर होता था।


रेल मंत्रालय ने कहा कि इसे कोरोना वायरस के कारण उपजे हालात की वजह से एक्सेप्शन मानें और इसे कॉन्ट्रैक्टर की गलती के रूप में नहीं देखा जाए। रेल मंत्रालय ने केटरिंग कॉन्ट्रैक्ट्स खत्म करने का आदेश देते हुए कहा है कि अब खाना नहीं परोसने पर किसी भी फूड कॉन्ट्रैक्टर पर फाइन नहीं लगाया जाएगा। उनकी सिक्योरिटी डिपॉजिट और एडवांस लाइसेंस फीस बकाया पेमेंट में एडजस्ट करके लौटा दिया जाएगा।


क्या है पूरा मामला?


दरअसल, 19 जनवरी 2021 को मद्रास हाईकोर्ट में इंडियन रेलवे मोबाइल केटरर्स एसोसिएशन (ICRMCA) ने यह मुद्दा उठाते हुए मांग की थी कि उन्हें रेलवे की केटरिंग में अपनी सर्विस रीस्टोर करने की इजाजत दी जाए, जो  लॉकडाउन के कारण मार्च, 2020 से ही बंद है।


रेल मंत्रालय का यह आदेश कोर्ट में इस पीटिशन के बाद आया है। इससे पहले रेलवे ने कहा था कि फरवरी से ट्रेनों में E-Catering की सुविधा शुरू कर दी जाएगी।  
 
सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।