Moneycontrol » समाचार » विदेश

'Tesla को भारत में लॉन्च करना चाहते हैं, लेकिन....', एलॉन मस्क ने बताया लॉन्चिंग में देरी का कारण

सूत्रों ने बताया कि Tesla ने मंत्रालयों और देश के प्रमुख थिंक-टैंक नीति आयोग (NITI Aayog) को एक पत्र लिखा है
अपडेटेड Jul 25, 2021 पर 13:51  |  स्रोत : Moneycontrol.com

टेस्ला (Tesla) की इलेक्ट्रिक कारों की जल्द से जल्द भारत में एंट्री का इंतजार सिर्फ भारत के लोगों को ही नहीं बल्कि खुद इलेक्ट्रिक कार बनाने वाली इस कंपनी को भी है। इसी कड़ी में एलॉन मस्क (Elon Musk) की कंपनी टेस्ला ने भारतीय मंत्रालयों को पत्र लिखकर इलेक्ट्रिक वाहनों पर आयात शुल्क (Import Duties) में बड़ी कटौती की मांग की है। मामले की जानकारी रखने वाले दो सूत्रों ने न्यूज एजेंसी रॉयटर्स से कहा कि ये कदम डिमांड को बढ़ावा देगा और सरकार के लिए राजस्व भी पैदा करेगा।


वहीं इस खबर के बाद एलॉन मस्क ने भारत में टेस्ला की गाड़ियों की एंट्री के सवाल के जवाब में ज्यादा इंपोर्ट ड्यूटी पर जोर दिया है। मस्क ने ट्वीट कर कहा, "हम ऐसा करना चाहते हैं, लेकिन भारत में किसी भी दूसरे बड़े देश के मुकाबले इंपोर्ट ड्यूटी दुनिया में सबसे ज्यादा है!"


उन्होंने आगे कहा, "इसके अलावा, क्लीन एनर्जी वाहनों को डीजल या पेट्रोल के समान माना जाता है, जो कि भारत के जलवायु लक्ष्यों के अनुरूप नहीं है।"
 


इससे पहले भारत में दूसरे लक्जरी वाहन निर्माताओं ने भी कारों पर टैक्स कम करने के लिए सरकार से अपील की थी, लेकिन प्रतिद्वंद्वियों के विरोध के कारण उन्हें बहुत कम सफलता मिली है।


ऑनलाइन रिपोर्ट्स ने सूत्रों के हवाले से बताया कि टेस्ला ने मंत्रालयों और देश के प्रमुख थिंक-टैंक नीति आयोग (NITI Aayog) को लिखे एक पत्र में कहा है कि पूरी तरह असेंबल गाड़ियों पर इंपोर्ट टैक्स घटाकर 40% करना ठीक है।


टेस्ला भारत में फैक्ट्री लगाना चाहती है। ऐसा बताया जा रहा है कि कंपनी इसके लिए लोकेशंस भी खोज रही है। हालांकि, टेस्ला ने बेंगलुरु में अपना हेडऑफिस बनाया है।


ऐसी भी संभावना है कि कम इंपोर्ट ड्यूटी के लिए इलेक्ट्रिक-कार निर्माता की इस अपील को प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के प्रशासन के विरोध का सामना करना पड़ सकता है, जिन्होंने लोकल मैन्युफैक्चरिंग को बढ़ावा देने के लिए कई इंडस्ट्री के लिए ज्यादा इंपोर्ट टैक्स का समर्थन किया है।


बता दें कि टेस्ला को खरीदने की इच्छा रखने वाले भारतीयों के लिए एक अच्छी खबर ये है कि कंपनी कार को कंट्रोल करने वाले इंटरफेस में हिंदी भाषा को भी जोड़ रही है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।