7th Pay Commission: केंद्र सरकार ने DA कैलकुलेशन में किया बड़ा बदलाव, ऐसे करें नई सैलरी कैलकुलेशन

7th Pay Commission: केंद्र सरकार ने DA कैलकुलेशन में किया बड़ा बदलाव, ऐसे करें नई सैलरी कैलकुलेशन

केंद्र सरकार ने हाल ही में बेस ईयर 2016 के साथ वेज रेट इंडेक्स (WRI) की एक नई लिस्ट जारी की है

अपडेटेड Nov 28, 2021 पर 10:17 PM | स्रोत : Moneycontrol.com

केंद्र सरकार ने केंद्रीय कर्मचारियों के लिए महंगाई भत्ते (DA) की गणना (DA Calculation) में कुछ बदलाव किए हैं। केंद्र सरकार के श्रम और रोजगार मंत्रालय की तरफ से हाल ही में इस फॉर्मूले में बदलाव किया गया था। बेस ईयर 2016=100 के साथ वेज रेट इंडेक्स (WRI) की नई सीरीज 1963-65=100 आधार के साथ पुरानी सीरीज को बदल देगी।

केंद्र सरकार ने बदला बेस ईयर

अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन (ILO) की सिफारिशों के अनुसार, राष्ट्रीय सांख्यिकी आयोग ने दायरे को व्यापक बनाने और इंडेक्स की दक्षता में सुधार करने के लिए आधार वर्ष को 1963-65 से बदलकर 2016 कर दिया। सरकार मुद्रास्फीति के आंकड़ों (Inflation Data) के आधार पर अहम आर्थिक मैट्रिक्स के लिए समय-समय पर आधार वर्ष में बदलाव करती है।

कैसे होता है DA कैलकुलेशन?

डीए साल में दो बार जनवरी से जुलाई के बीच रिवाइज होता है। महंगाई भत्ते (DA) की गणना मूल वेतन (Base Wage) से महंगाई भत्ते की वर्तमान दर को गुणा करके की जाती है।

Post Office की इस योजना में लगाएं 10 हजार और पाएं 16 लाख रुपये- जानें इस स्कीम के बारें में

क्या है महंगाई भत्ता (DA)?

कर्मचारियों को उनके रहने के खर्च में मदद करने के लिए केंद्र सरकार की तरफ से महंगाई भत्ता (DA) दिया जाता है। ये पैसा इसलिए दिया जाता है, ताकि बढ़ती महंगाई के कारण कर्मचारियों के जीवन स्तर पर असर न पड़े। यह पैसा सरकारी कर्मचारियों, पब्लिक सेक्टर के कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को दिया जाता है।

MoneyControl News

MoneyControl News

First Published: Nov 28, 2021 10:17 PM